Domain authority Kaise badhaye site ki Authority badhane ka formula 2020

0
347
website ki domain authority kaise badhaye (complete Guide)2020
website ki domain authority kaise badhaye (complete Guide)2020

Domain Authority क्या होती है?

गूगल वेबसाइट को रैंक करवाने में बहुत सारे फैक्टर देखता है| लेकिन उसमे से बहुत इम्पोर्टेन्ट है Domain Authority| . Domain Authority एक स्कोर है जिसे Moz ने बनाया है जो यह चेक करता है कि आपकी साइट सर्च इंजन में कितनी अच्छी रैंक करती है| Domain Authority का उपयोग जब करते है , जब हम एक साइट से दूसरी साइट की तुलना (compare) करते है| या फिर जब हम अपनी साइट की Strengh को देखते है| Basially सर्च इंजन हमारी domain Auhtority को बढ़ाने में बहुत हेल्प करता है|

Moz क्या है?

Moz एक सॉफ्टवेयर कंपनी है जो साइट को Domain Auhtority के आधार पर सर्च इंजन में रैंक प्रधान करता है| Moz आपकी साइट पर बैकलिंक को दिखता है| और पता लगाता है कि कितनी Quality वाली साइट के लिंक आपकी साइट से connected है| Moz का एल्गोरिथम इसे Find करने में हेल्प करता है| और सर्च इंजन में इसी आधार पर आपकी साइट की वैल्यू बढ़ाता है|

Domain Authority को Moz में कैसे कैलकुलेट करते है?

दोस्तों,Moz किसी भी साइट को Linking root domain ,Number of total link ,Moz rank, Moz Trust etc. फैक्टर देखकर कैलकुलेट करता है|
फिर भी हम देखते है की कुछ साइट का DA ज्यादा होता है लेकिन फिर कम हो जाता है|
Example के लिए- मेरे दोस्त की साइट का DA 30 था और कुछ ही महीनो बाद 27 हो जाता है| इसमें बहुत सारे फैक्टर शामिल हो सकते है| जैसे-

  1. हो सकता है कि साइट ने 1 -3 महीनो के नीच में बहुत कम बैकलिंक या एक भी बैकलिंक नहीं बनाया हो|
  2. हो सकता है की आपने बहुत बैकलिंक बनाये हो , लेकिन जो और Authority साइट है उन्होंने ज्यादा और Valuable साइट से बैकलिंक बनायें हो|
  3. Moz ने उन साइट को बेहतर बनाया हों , जिनके लिंक आपके पास है|

1. ज्यादा से ज्यादा valuable कंटेंट पोस्ट करे

दोस्तों, गूगल हमेशा फ्रेश और knowledgeable कंटेंट को preference देता है| इसलिए आपको हमेशा खुद से नॉलेज इकट्ठी करके या कंटेंट राइटर को hire करके लोगो को सही valuable कंटेंट provide करवाना चाहिए| जिससे आपका कंटेंट गूगल में टॉप पेज पर आ सकें| गूगल आजकल बहुत स्मार्ट होता जा रहा है| आप उसे बेवक़ूफ़ नहीं बना सकते| इसलिए किसी दूसरी साइट से कंटेंट लेकर उसे modified करके अपनी साइट में अपलोड न करे| इससे कंटेंट कॉपीराइट में तो नहीं आता लेकिन रैंक भी नहीं होता हैं| इससे बचे? में खुद 3 महीने तक ऐसा ही करता रहा और फिर जब ट्रैफिक नहीं नहीं आया| तब मैंने नॉलेज इकट्ठी करके खुद का कंटेंट लिखना शुरू किया| आप किसी भी कंटेंट राइटर को hire कर रहे है तो सामने कंटेंट लिखवाये क्युकी बहुत सारे कंटेंट राइटर work from home के नाम पर लोगो को दूसरी साइट का कंटेंट modified कर चिपका देते है| इससे एक तो पैसा waste होता है और दूसरा कंटेंट रैंक नहीं होता| में खुद शुरुआत में इस चीज़ का शिकार रहा हु इसलिए इन चीज़ो से बचें? आपकी साइट को रैंक करवाने में और Domain Authority बढ़ाने में कंटेंट 80% काम करता है| इसलिए कहा जाता है| Content is King.

2. High Quality बैकलिंक पर ध्यान दें

दोस्तों, Content is  King लेकिन साइट के लिए बैकलिंक भी बहुत जरुरी है| जो साइट की रैंकिंग और ट्रैफिक बढ़ाने  का एक अच्छा माध्यम है| अगर कोई साइट जिसका DA,PA बहुत ज्यादा है और वह Trusted site  है तो आप उससे backlink ले  सकते है| इससे लिए आपको साइट एडमिन से बात करनी होगी| हो सकता है कि वह guest post के बदले आपको backlink  दे दे या आपको कुछ paid करके backlink लेना पड़े| लेकिन अगर आप backlink बना रहे हों जो बहुत जरुरी है तो अच्छी साइट से ले जिसका DA,PA ज्यादा हो| आप Website seo checker साइट की हेल्प से साइट का DA,PA चेक कर सकते है| और दूसरा जो आपकी साइट का कंटेंट है उसी कंटेंट की same साइट से backlink लीजिये| जो आपकी साइट की google ranking में हेल्प करेगा| आप कुछ साइट से paid बैकलिंक भी ले सकते है| लेकिन इसमें ये खतरा है की अगर कही आपको low-quality का बैकलिंक मिल गया तो साइट की रैंकिंग कम होगी और spam स्कोर भी बढ़ने की आशंकाये रहती है| और दूसरी बात, अगर आपको बहुत सारे बैकलिंक एक साथ मिल जाए तो गूगल को भी शक होता है| और ऐसे में गूगल आपकी रैंकिंग गिरा देता हैं या Adsense को बंद कर देता है|

3. Internal Link की हेल्प लें

दोस्तों,  internal  link आपकी google ranking और SEO को इतना बढा सकता है कि आप सोच भी नहीं सकतें | यह आपकी साइट की Bounce rate को कम करता हैं| और साइट पर कस्टमर टाइमिंग को बढ़ाता है| जिससे गूगल का साइट पर Trust Flow बढ़ता है| और गूगल साइट को रैंकिंग प्रोवाइड करवाता हैं| ध्यान रखें -आप जब भी  आर्टिकल पोस्ट करके समय internal link देते है तो लिंक पोस्ट के हिसाब से प्रोवाइड करवाये|

4. External link

दोस्तों , जब भी आप किसी भी पोस्ट को अपलोड करते है तो ध्यान रखियेगा कि जो भी आप पोस्ट में external  link प्रोवाइड करवा रहे है| | उसकी Domain Authority  हमेशा 30-40 या उसके ज्यादा  का होना चाहिए| साथ ही आपको यह भी ध्यान रखना चाहिए  कि आप जो भी External  link प्रोवाइड करवा रहें  है वह पोस्ट से related होना चाहिए| जिससे यूजर को अच्छा लगें और अगर ना  हो  तो कोई प्रॉब्लम नहीं|  लेकिन external link का DA और PA सही होना चाहिए| जिससे यह आगे जाकर हमारे लिए broken link बनकर सामने न आये|और Domai Authority बनी रहे| दोस्तों, एक अच्छा External लिंक दो low quality बैकलिंक से अच्छा होता है|

5. Domain को पुराना होने दीजिये

दोस्तों,आपका डोमेन जितना पुराना होगा, उतना ही valuable होगा और उतनी ही उसकी Domain authority बढ़ेगी इसलिए अपनी साइट को थोड़ा टाइम दीजिये | क्योकि पुराने डोमेन पर गूगल और moz साइट का trust ज्यादा होता है| गूगल को लगता है कि यह fake साइट नहीं है और गूगल इसकी रैंकिंग बढ़ा देता है| जिससे साइट का DA बढ़ता जाता है| इसके अलावा आप Expired डोमेन की भी हेल्प ले सकते है| बहुत सारे लोग अपने niche के हिसाब से expired डोमेन खरीद लेते है| क्योकि इनकी Domain authority और रैंकिंग ज्यादा होती है| आप भी ऐसा कर सकते है| बस आपको इसे खरीदने से पहले इसका spam-score और ये चेक करना होगा कि कही गूगल ने इसे Banned तो नहीं किया है| अगर ये सब सही है| तब आप इसे खरीद सकते है क्योकि Expired-domain जितना पुराना होगा उतना ही valuable होगा|

6. साइट की स्पीड पर ध्यान दीजिये

दोस्तों, हमें साइट की स्पीड पर भी ध्यान देना चाहिए| जैसा की मैंने आपको बताया कि इसके लिए सही होस्टिंग की जरुरत होती है| लेकिन यह साइट की स्पीड पूरी तरह सही नहीं करती| इसके लिए आप W3 cache plugin की हेल्प ले सकते है| वैसे तो यह paid-plugin है| लेकिन आप इसका फ्री plugin  भी यूज़ कर सकते है| यह आपके साइट के load को कम करता है| और साइट के trash को साफ़ करता है| बस आपको अपने admin-panel  में जाके delete cache  और clear cache पर क्लिक कर trash को डिलीट करना  है| और यह cache को क्लियर कर देता है| लेकिन अगर आपके पास पैसे है तो आप paid-Plugin का यूज़ कर सकते हो| यह आपकी साइट के लोड को कम करने के साथ-साथ Yslow speed ,Page-speed ,और loading time को सही कर देता है| जैसा की आप image में देख रहे है| ये आपकी साइट को बिलकुल वैसा ही कर  देता है| और यह कोडिंग को भी compress कर देता है| और आप पोस्ट में जो image , video यूज़  करते है| उसे Automatically compress कर देता है| मतलब यह एक हेल्पफुल plugin है|

Google ranking kya hai and Kisi Bhi artical ko rank Kaise karaye 2020
Google ranking kya hai and Kisi Bhi artical ko rank Kaise karaye 2020

7. Spam-Score जीरो रखें

दोस्तों, अगर आपकी साइट का spam score 1% है तो आप टेंशन फ्री रहियें लेकिन अगर यह 1% से अधिक है तो उसका मतलब है की आपकी साइट में कोई स्पैम कर रहा है| और आपको गलत तरीके से या गलत साइट से बैकलिंक प्रोवाइड करवा रहा हैं| जिससे आपकी साइट का स्पैम स्कोर बढे| Blogging की रिपोर्ट के अनुसार- गूगल ऐसी साइट को रैंकिंग नहीं देता है| और साइट की रैंकिंग घटा देता है| आप जिस किसी भी साइट से बैकलिंक अगर ले रहे है तो देख लीजिये कि उनका spam स्कोर score ज्यादा तो नहीं है अगर ऐसा है| तो आप उस साइट से बैकलिंक मत लीजिये| बहुत सी sites जो गूगल अल्गोरिथम को हानि पहुंचाने का काम करती है| गूगल ऐसी sites को banned कर देता है| यही sites स्पैम फैलाने का काम करती है| किसी भी valuable साइट का स्पैम स्कोर 1% होता है| इसलिए इसे इतना ही बनाये रखे| आप semrush ,ahref , moz जैसी sites की हेल्प से अपना spam score चेक कर सकते है| और जिन sites ने आपको bad backlink proivde कराये है, उनकी लिस्ट बनाकर गूगल की हेल्प से disavow कर उन्हें हटा सकते है| basically में Website seo checker साइट की हेल्प से अपनी साइट का spam score चेक करता हूँ| और आप इसमें alexa रैंकिंग और DA,PA चेक कर सकते हैं|

8. Google Search Console में sitemap सबमिट करें

दोस्तों, यह एक बहुत जरुरी step  है जो आपको करना होता है|  इसमें आपको अपनी साइट का sitemap गूगल सर्च console में सबमिट करना होता है| जिससे गूगल को पता चले कि आपकी साइट भी गूगल में मौजूद (exist ) है| इससे गूगल का  ध्यान आपकी साइट  पर भी जाता है| जो  Google Ranking के लिए बहुत जरुरी है| अगर आपको अपनी साइट का sitemap देखना नहीं आता तो अपने डोमेन का नाम लिखकर  टाइप करना है और आपकी साइट का sitemap निकलते आ जाएगा और बस  फिर आपको इसे google search console में जाकर सबमिट करना है|

9. Mobile Freindly साइट बनाए

दोस्तों, यहां Mobile Friendly साइट से मतलब है कि आपकी साइट की जो Theme है जो भी आपने सिलेक्ट की है वहां desktop के मुकाबले Mobile Friendly ज्यादा होनी चाहिए| क्योकि लोग Laptop या Pc के मुकाबले मोबाइल का यूज़ ज्यादा करते है| और ऐसे में अगर आपकी साइट Moobile Friendly नहीं होगी और लोगो को प्रॉब्लम आएगी तो वो आपकी साइट पर आना पसंद नहीं करेंगे| जिससे आपकी साइट की Google Ranking गिर जायेगी| और वैसे भी दोस्तों, 2019 में 4.68 लोग मोबाइल का यूज़ करना ज्यादा पसंद करते थे| जिसमें यह आंकड़ा 2020 में 9.3% से बढ़कर 5 Billion पार हो गया है| इसीलिए जितना हो सकें, साइट को Mobile-Friendly बनायें|

10. Q & A साइट की हेल्प लें

दोस्तों, आप इसके लिए Quora की हेल्प ले सकते है| Quora एक Question एंड Answering (सवाल और जवाब )प्लेटफॉर्म है जहाँ आप अपने सवाल का जवाब देख सकते हैं | और इस प्लेटफॉर्म पर आईडी बनाकर बहुत सारे Question के Answer देकर लोगो की हेल्प कर सकते है| और लोग आपको फॉलो भी कर सकते है और साथ ही साथ इसमें आप अपनी साइट का लिंक भी add कर सकते है| जिससे अगर लोगो को answer पसंद आता है तो वो लिंक से through आपकी वेबसाइट पर चले जाते है जिससे आपकी साइट की Domain Authority बढ़ जाती है| इसलिए जितना हो सकें दोस्तों, quora पर Id बनाकर लोगों के Answer दीजिये जिससे लोग आपकी वेबसाइट पर ज्यादा आ सकें| यहां डोमेन Authority के साथ साथ आपकी साइट की रैंकिंग में भी बहुत हेल्प करता है|

https://www.quora.com/

11. एक साइट से एक ही बैकलिंक लें

दोस्तों, एक साइट से एक ही बैकलिंक लें | बहुत सारे लोग एक साइट से बहुत सारे बैकलिंक ले लेते है| और सोचते है कि इससे उनकी डोमेन authority बढ़ जायेगी और बैकलिंक भी ज्यादा जाएंगे| लेकिन में आपको बता दू कि ऐसा कुछ भी नहीं होता है| Moz सिर्फ एक साइट से एक ही बैकलिंक मानता है इसलिए आप एक साइट से एक ही बैकलिंक prefered करें| यह आपकी Domain Authority तो बढ़ाता है और गूगल रैंकिंग भी बढ़ा देता है|

12. one niche, one goal

दोस्तों, कुछ लोग इस फील्ड में नए आकर सोचते है कि वह सब विषयों में नॉलेज प्रोवाइड करवाएंगे या बहुत सारा कंटेंट लिखेंगे तो बहुत पैसे कमाएंगे| लेकिन ऐसा नहीं है यहां समय और पैसा दोनों की बर्बादी करता है| इससे गूगल अल्गोरिथम को आपकी साइट का कंटेंट पहचानने में गड़बड़ी होती है| और वह आपकी साइट के कंटेंट को google ranking नहीं दे पाता है| इसलिए किसी एक Niche पर काम करें जिससे बारे में आपको नॉलेज है| बहुत सारे ऐसे ब्लॉगर है जो एक Niche पर काम करते है और उसी से महीनो का लाखों कमाते है| आप सभी Niche पर कमान नहीं बना सकते क्योकि वह तो न्यूज़ वाले ऐसा काम करते है| उन पर पूरी टीम रहती है अलग-अलग Niche के लिए अलग-अलग लोग| इसलिए एक Niche और एक ही Goal पर फोकस रहिये| अगर आप बहुत सारी नाव पर पैर रखेंगे तो आपके डूबने की संभावना ज्यादा रहती है|

दोस्तों, अगर आप अपनी साइट को गूगल रैंक में लाना चाहते है तो आप हमारा आर्टिकल इस लिंक पर जाकर पढ़ सकते है|

13. Users आपकी साइट पर trust करें

दोस्तों, आप अपनी साइट पर जो भी कंटेंट प्रोवाइड करवा रहे है| वह Valuable होना चाहिए जिससे लोगो का आपकी साइट पर Trust बढे और लोग आपकी साइट पर बार-बार आये| आप जैसे-जैसे Valuable कंटेंट बढ़ाते जाएंगे ,आपकी साइट की Authority लोगों के सामने उतनी ही बढ़ती रहेंगी और एक दिन आपकी साइट लोगो के सामने Authority और पॉपुलर साइट बन जायेगी| इसलिए हमेशा अपनी साइट को एक Trusting Authority साइट बनाने की कोशिश कीजिये| इससे आपकी साइट पर ट्रैफिक तो बढ़ेगा ही और Domain Authority भी बढ़ती जायेगी|

14. सोशल मीडिया प्लेटफार्म की मदद लें

बहुत से फेमस bloggero का कहना है कि आप केवल आर्गेनिक ट्रैफिक पर ही depend नहीं  सकते| क्योकि अगर आपकी साइट नई है तो थोड़ा बहुत टाइम तो लगेगा ही| इसलिए आपको सोशल प्लेटफार्म जैसे- फेसबुक,इंस्टाग्राम , pinterest पर Id बनाकर वहां अपने फ़ॉलोवर बनाकर अपने कंटेंट को शेयर करना चाहिए| जिससे अधिक से अधिक लोग आपकी साइट पर पहुंच सके| यह साइट की रैंकिंग को बढ़ाता है| ऊपर दी हुई image से आप समझ गए होंगे कि कैसे आप इस काम को कर सकते है|

15. Guest post बनायें

दोस्तों, अगर आप अपनी साइट की Domain Authority बढ़ाना चाहते है तो आप दूसरी high Authority साइट के लिए guest पोस्ट लिख सकते है| बस आपको साइट एडमिन को Guest पोस्ट के लिए राजी करना पड़ता है| आप उनको email भेजकर या किसी सोशल साइट पर फॉलो करके उनको गेस्ट पोस्ट के लिए राजी कर सकते हो| उस साइट से आपको एक बैकलिंक मिलता है जो आपकी साइट के लिए DA बढ़ाने में आपकी हेल्प करता है| यहां लिंक Do-follow या No-follow भी हो सकता है| बहुत से लोग इसी तरीके से अपनी साइट के लिए बैकलिंक लेते है| लेकिन ध्यान रहे दोस्तों, आप जो भी साइट के लिए guest पोस्ट लिखने जा रहे है उस साइट का Niche और आपकी साइट के Niche same होना चाहिए|

16. साइट को Http से Https पर लाए

दोस्तों, इसकी फुल फॉर्म Hyper Text Transfer Protocol Secure हैं| ,दोस्तों, 2018 के बाद से गूगल के Chrome Browser ने जो साइट Https नहीं है उनको Non Secure दिखाना शुरू करदिया है| जिसका मतलब है कि यह साइट सुरक्षित है| और आप इस साइट पर क्रेडिट कार्ड, पासवर्ड details शेयर नहीं कर सकते है| इसलिए गूगल chrome ने साइट को Secure करने से उद्देश्य से Https को मान्यता दी है| इसमें आप SSL सर्टिफिकेट की हेल्प से साइट को हैकरो से बचाने के लिए सुरक्षित कर सकते है| यह आपके ब्राउज़र और सर्वर के बीच एक Secure Connection बनाता है| जिससे हैकरो के लिए कनेक्शन को हैक करना मुश्किल हो जाता है|

17. ऐसा कंटेंट बनाये तो linkable हों

दोस्तों, गूगल में बहुत कम साइट है जो linkable कंटेंट बनाती है| यहां linkable कंटेंट से मतलब है की दूसरी साइट या अपनी साइट के आर्टिकल में लिंक होने वाला कंटेंट| दोस्तों,linkable कंटेंट bounce rate को कम करता है जिससे साइट की डोमेन Authority बढ़ने में हेल्प मिलती है| इसलिए जितना हो सकें, Linkable कंटेंट बनायें| अगर आपका कोई कंटेंट है जो दूसरी साइट के आर्टिकल के लिए linkable है तो आप साइट एडमिन से बात करके अपने कंटेंट के लिंक को वहाँ डाल सकते है जिससे आपको एक नया बैकलिंक भी मिल जाता है| जो रैंकिंग के साथ-साथ Domain Authority में भी बहुत हेल्प करता है|

18. Off-page SEO-

Off Page SEO क्या है –दोस्तों, जब भी हम किसी पोस्ट को पब्लिक करते है| publish करने के बाद उसको सर्च में लाने के लिए हम जो भी काम करते है अपनी साइट की rank को improve करने के लिए उसको off page seo कहते है।किसी भी टॉपिक पर जब हम आर्टिकल लिखते है| और उसको सर्च पर लाने के लिए जो starting में करते है| वो On-Page SEO से होती है। On page optimize करके जब Artical publish कर देते है तो बारी आती है off page Seo optimization की|

इसके लिए आपको सोशल नेटवर्किंग साइट, डॉक्यूमेंट शेयरिंग साइट और लिंक Buidling साइट पर आर्टिकल और साइट को प्रमोट करना पड़ता है| अगर आप off-page Seo के बारे में details में जानना चाहते है तो आप इस लिंक की मदद से जान सकते है|

19. On-page SEO

दोस्तों, आप अपनी साइट में जैसे-जैसे आर्टिकल डालते है और आर्टिकल जितना Seo फ्रेंडली होगा, आपकी साइट की Domain Authority वैसे-वैसे बढ़ती जाएगी| इसीलिए जो भी आर्टिकल आप अपनी साइट में अपलोड करे ,उसका पहले On-page Seo चेक कर ले उसके बाद उसे अपलोड करें| On-page Seo को सही करने के लिए आपको बहुत से फैक्टर को सही करना पड़ता है| आप बिना On-Page Seoको सही करे अपनी पोस्ट को google ranking नहीं करा सकते है| आपकी Yoast Plugin आपको On Page Seo को सही करने में बहुत हेल्प करती है|
सबसे पहले आपको अपने Admin पैनल में Yoast Seo Plugin को एक्टिवेट करना पड़ता है| Basically यहां एक फ्री Plugin है पर आप इसका paid Version भी यूज़ कर सकते है| इसमें आपको कुछ फैक्टर जैसे Meta-Discription, कीवर्ड density ,फोकस कीवर्ड, slug ,Image alt attributes, internal लिंक और outbound लिंक को सही करना पड़ता है| आपको बस आर्टिकल में इन सब पॉइंट को सही पोजीशन पर करना होता है जिससे आपका On-page Seo सही हो जाता है| और आपका DA बढ़ जाता है| Title- एक अच्छा Title 7-8 word का होना चाहिए| इसीलिए जितना हो सके, Title को लॉन्ग कीवर्ड में रखिये|
Keyword-density-जितना हो सकें कीवर्ड को ज्यादा यूज़ करे| जिससे गूगल कीवर्ड को crawl कर सकें और रैंक कर सके|
Alt-image- इमेज में टाइटल, discription और link discription प्रोवाइड करवाए जिससे इमेज गूगल में आपके ब्लॉग के नाम से अपलोड हो|
Meta-discription- Meta-discription शॉर्ट और main पॉइंट कवर होना चाहिए| और Discription 155-160 word का होना चाहिए|
Focus-keyword- Focus keyword जितना हो सकें पोस्ट में ज्यादा प्रोवाइड करवाने की कोशिश कीजिये
Slug –दोस्तों, आपकी पोस्ट के url को सही करने में यहां आपकी बहुत हेल्प करता है और अगर कोई आपकी साइट के url को शेयर करता है तो यह लिंक को broken लिंक में नहीं बदलने देता| इसलिए slug में हमेशा सही title प्रोवाइड करायें|

Image alt attributes-यह आपके आर्टिकल को इमेज के साथ लिंक करवाने में आपकी बहुत हेल्प करता है| आप जब भी अपने आर्टिकल में Title इमेज प्रोवाइड करवाए, उसमे इमेज का क्या purpose है वो लिखें| जिससे अगर कोई गूगल में आपके आर्टिकल के बारे में सर्च करें तो उसे गूगल इमेज में आपके आर्टिकल की इमेज दिखाई दे और इमेज की हेल्प से सीधे आपकी साइट पर आ सकें| दोस्तों, अगर आप On-page Seo के बारे में और भी कुछ जानना चाहते है , तो आप इस लिंक की हेल्प से जान सकते है|